हिंदी देहाती हिंदी बीएफ

Image source,सट्टा किंग गली दिसावर में क्या खुला

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गांडू: हिंदी देहाती हिंदी बीएफ, तुम तब तक टीवी देखो।मैं उनके बेडरूम में जाकर टीवी देखने बैठ गया। चूंकि हॉल में कोई भी आ सकता था इसलिए मैं बेडरूम में आ गया। मैं टीवी पर इंग्लिश मूवी देखने लगा। उसमें आते हुए सेक्सी सीन देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया था, पर मुझे थकान के चलते नींद सी आ रही थी।भाभी का इंतजार करते हुए मैं वहीं कब सो गया.

सेक्सी वीडियो सर्च

तुम तो निपट लिए मेरा ख्याल करो।वकील साहब को कुछ याद आया उन्होंने टेबिल की ड्रावर खोली. सेक्स वीडियो पंजाबीफिर तो यह रोज का कार्यक्रम बन चुका था कि दो बजे जाना और उनको चोद कर अच्छे से सुला कर तीन बजे के बाद आना!मैंने उनके पति के बारे में पूछा तो कहने लगी- वो बहुत बड़ी कंपनी में काम करते हैं और अक्सर विदेश ही रहते हैं.

लंड को दबाव देते हुए दरवाजा खोला- क्या है माँ?माँ- थोड़ा खाना खा ले… दस बज चुके हैं. राजा रानी की सेक्सीमैंने मुँह को भाभी की देसी चुत पर रखा और जैसे गुब्बारे में हवा भरते हैं वैसे अपनी गरमागरम साँसें चुत में भरने लगा.

मैंने उसे कहा कि राजे वक़्त काटे नहीं कट रहा कमीने, आज डिनर जल्दी करवा ले ताकि दस बजे तक चुदाई का कायक्रम शुरू कर सकें!राजे हंस के बोला- क्यों चूत बहुत दुःख दे रही है रंडी?खैर रात दस बजे राजे और जूसी अपने बेडरूम में चले गए और मैं रीना के साथ मेहमानों वाले बेडरूम में लेट गई.हिंदी देहाती हिंदी बीएफ: बुआ किसी हीरोइन से कम नहीँ लग रही थीं।ये सब देखकर मेरा लंड अब बाहर निकलने को बेताब हो गया था। बुआ को मैंने पलटकर अपने ऊपर ले लिया और उनके होंठों को चूसते हुए अपने हाथों से उनकी पीठ को सहलाने लगा था।वो उनका कोमल स्पर्श, वो हॉट फीलिंग जो तब हुई थी.

मामू कब से चूस रही हूँ आज आपका रस क्यों नहीं निकल रहा है, मेरा मुँह दुखने लगा है।संजय- मेरी जान ये ऐसे नहीं निकलेगा.रूबी ने हाथ नीचे करके विवेक का लंड टटोल लिया और उसे कस के पकड़ लिया.

औरत की बच्चेदानी - हिंदी देहाती हिंदी बीएफ

कल्पना ने मेरे बहुत सारे बाल नोचे और बदले में मैंने उसके मम्मों को ऐंठ दिया, हम दोनों ही इस दर्द का आनन्द उठा रहे थे, मैं चूत चाटने में लगा था तो मुझे पता भी नहीं चला कि कब आभा डिल्डो लेकर आ गई.अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि जवान लड़की की चूत संजय के लंड से चुदाई के लिए गर्म होने लगी थी और खाने के बाद डांस के दौरान वो और ज्यादा गर्म हो उठी थी।अब आगे.

उसने साबुन नीचे रख दिया और अपने हाथों को मेरी चूत पर, कमर पर, मेरी जांघों पर, पैरों पर रगड़ने लगा।रगड़ते रगड़ते अचानक अपनी बीच की बड़ी वाली एक उंगली मेरी चूत में घुसा दी, उसके इस अचानक हुए हमले से मैं कराह उठी और मेरे मुँह से उम्म्ह… अहह… हय… याह… निकल गई और वो धकाधक उंगली मेरी चूत में करने लगा.हिंदी देहाती हिंदी बीएफ तो बालकनी में खड़े होकर मैं यही सोचने लगा कि दो दिन क्या करूँ?तभी मेरी नजर सामने वाली खिड़की पर पड़ी, वहाँ करीब 25-27 साल की लड़की सफाई कर रही थी.

क्या करूँ?’मैं- आपसे क्यों नहीं रहा जा रहा?‘जब से मैंने आपके साथ सेक्स किया है.

सेक्स वीडियो इंग्लिश वाला?

हिंदी देहाती हिंदी बीएफ अब मेरी बिल्कुल भी चुदवाने की हिम्मत नहीं है।यह हिंदी गंदी कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!काका- हा हा हा हा… नहीं आऊंगा रानी तू अब आराम से सो जा!काका के जाने के बाद मोना ने कपड़े पहने और सुकून की नींद सो गई।सुबह सुमन के घर में वही रोज का माहौल था। सुमन ने आज रेड एंड वाइट कॉम्बिनेशन पहना था और बाल भी खुले रखे हुए थे। आज वो किसी परी से कम नहीं लग रही थी।गुलशन- अरे वाह.

नेपाली की सेक्सी फिल्म?मिशन सेक्सी

हिंदी देहाती हिंदी बीएफ हटो कोई देख लेगा तो आप गांड क्या कुछ भी मारने के काबिल नहीं रहोगे।काका- अरे कोई नहीं देखेगा.

सौतेली मा

तभी रवि ने मुझे उठाया और उठाकर घोड़ी बना दिया।हमारे बेड के सामने ही ड्रेसिंग टेबल रखी हुई थी, जब मैं घोड़ी बनी तब मेरा मुंह ड्रेसिंग टेबल के ही सामने था और मैं शीशे में ऐसे ही अपने नंगे बदन को निहारने लगी.अगले दस मिनट तक हम दोनों 69 की मुद्रा में एक दूसरे की जननेन्द्रियाँ को चूसते एवम् चाटते हुए उत्तेजित करने लगे.

हिंदी देहाती हिंदी बीएफ मैंने फिर से माँ की हिलती गांड को दोनों हाथों से फैलाया और अपना लंड एक ज़ोरदार तरीके से अंदर बाहर करने लगा.

दिल्ली दिसावर दिल्ली सट्टा

कुलधरा गांव की फिल्महैलो मित्रो, मेरा नाम योगू है मैं एक स्टूडेंट हूँ और महाराष्ट्र से हूँ.

आगे भी उसी क्रम में स्वान अपना लंड निकाल कर दुबारा चुसवाने के लिए पलंग पर लेट गया.इस 4-5 सेकंड की किस के मैंने उसको धीरे से मेरी बांहों में जकड़ लिया.

जी भर के करूँगी लंड की चुसाई तो मैं बड़े प्यार से करती हूँ।संजय- अच्छा तो कल झूठ क्यों बोली थी कि तू चुदी हुई नहीं है?फ्लॉरा- अरे यार पहली मुलाकात में कैसे हाँ कहती.

उसकी उभरी चिकनी चुची और उसके चूचुकों के गोले छोटे से काले घेरे, सपाट पेट, और पतली कमर जिसको अभी तक किसी ने भी नहीं चखा था, मैं जम कर चख रहा था और बार बार मैं अंजलि को चूमने लगा.

करना ही है तो आराम से करो ना।उसे मेरी इस बात से रिलॅक्स हुआ और वो मेरे से गले लगती हुई बोली- भाई आप बहुत अच्छे हैं आई लव यू. वरना अब तक तो मैंने सेक्स को एंजाय ही नहीं किया।मैंने महसूस किया कि वो सेक्स की प्यासी थी और खूब खुश थी। वो बार-बार कह रही थी- अमर मुझे चोदो खूब चोदो.

नेपाली सेक्सी फिल्म जूसी के बिस्तर पे उसकी मौजूदगी में उसके पति से चुदना! वाह वाह!!! यह अपने आप में ही आनन्द को अनेकों गुणा बढ़ने के लिए काफी था.

एचडी हॉट सेक्स

हिंदी देहाती हिंदी बीएफ: तभी फोन की घण्टी की आवाज आई… मेरी बीवी का फोन था… बोली- वाशी का मीटिंग आधा घंटा लेट हो गई है तो आठ बजे शुरू होगी.अजय का लंड बार बार साराह की चूत पर टक्कर मार रहा था और अजय तो साराह के मम्मों को खा ही जाना चाहता था.