लेते हुए बीएफ

Image source,देवर भाभी की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

राजस्थानी सेक्स पिक्चर: लेते हुए बीएफ, !मैं- ओके, मैं रिया से बोल देता हूँ कि तुम दूद्दू नहीं पीने दे रही हो।तभी रिया आई तो मैं बोला- रिया, देखो ना ये मुझे दूद्दू नहीं पिला रही है।रिया- ओए, मेरे जीजू को दूध क्यों नहीं दे रही? कोई बात नहीं विकास मैं देती हूँ रुको.

गावती सेक्स

फिर हम लोग एक दूसरे के शरीर से चिपककर 2 घंटों तक सोए रहे और नींद तब टूटी, जब होटल के बैरे ने घंटी बजाकर चाय के लिए पूछा. xxx.com बीएफ हिंदी मेंइमरानअंकल- अरे नहीं बेटा… तू कहे तो मैं तुझको बिना पेटीकोट के ही साड़ी बांधना सिखा दूँ… पर आजकल साड़ी इतनी पारदर्शी हो गई हैं कि सब कुछ दिखेगा…सलोनी- हाँ हाँ आप तो रहने ही दो… चलो मैं ये दोनों कपड़े पहन कर आती हूँ ! फिर आप साड़ी बांधकर दिखा देना…उसने पेटीकोट और ब्लाउज हाथ में लिये.

’उसकी इस आवाज़ के साथ मुझे याद आया सोनम अभी भी चुदवा रही है।मेरा ध्यान सोनम की ओर चला गया।प्रीति की चूत इस वक़्त पूरी कामरस से सराबोर हो कर ‘लण्ड. सेक्सी बीएफ देहाती मेंदोनों टाँगें मैंने फैला दईं, अंग से अंग पर रस फैलायासाजन ने अपने कन्धों को, बाँहों के सहारे उठाय लियाउस रात की बात न पूछ सखी, जब साजन ने खोली मोरी अंगिया !.

!”पीटर मेरे ऊपर लेटा और अपनी गांड ऊपर की ओर उठा कर एक करारा झटका मारा।मेरे मुँह खुला का खुला रह गया… आ.लेते हुए बीएफ: !रेहान की बातों से उसे हौसला मिल रहा था और वो नज़रें टिकाए बस अन्ना को देखे जा रही थी।अन्ना ऊपर से नीचे आरोही को घूरने लगा और फ़िर रेहान की तरफ़ देखने लगा।रेहान- अन्ना जी, क्या सोचने लगे?अन्ना- तुम बोलता तो मैं मान लेता जी.

फिर मैंने अपनी चूत के छेद पर उसका लंड सही से लगाया और मैं उससे बोली- अब डाल दो जान अपना लंड मेरी चूत में !तो उसने मेरे चूचो को पकड़कर मेरे चूत पर एक धक्का मारा.!मैंने तो मानो उसकी बातों को सुनते-सुनते ही कपड़े डालने रोक ही दिए थे।क्या नाज़ुक है मेरे जिस्म में?”सब कुछ नाज़ुक ही दिखता है।”आज यह आप को क्या हो गया.

बीएफ विदेशी बीएफ - लेते हुए बीएफ

तभी सलमा बड़ी हसरतों से बोली- काश कि खुदा में हमें भी लौड़ा दिया होता…इरफ़ान ने पूछा- क्यों? ऐसा क्यों कह रही हो?सलमा लम्बी सांस छोड़ते हुए बोली- तेरे जैसे बहन के लौड़ों को चोद कर बताती कि चोदते कैसे हैं.बस हो गई ख़ुशी… अब तो दो ना !मैं- जी नहीं, यह तो अब मेरा गिफ्ट है… इसको मैं अपने पास ही रखूँगा…रोज़ी चुपचाप पैर पटकते हुए बाथरूम और फिर केबिन से भी बाहर चली गई… पता नहीं नाराज होकर या…फिर मैं कुछ काम में व्यस्त हो गया।शाम को फोन चेक किया तो तीन मिसकॉल सलोनी की थीं…मैंने सलोनी को कॉल बैक किया…सलोनी- अरे कहाँ थे आप… मैं कितना कॉल कर रही थी आपको…मैं- क्या हुआ?सलोनी- सुनो… मेरी जॉब लग गई है.

फिर मैं उसके दूध दबाता हुआ उसकी टाँगों के बीच में आ गया, अब मैंने सीधे उसकी चूत पर मुँह रखा और जोर से किस करना शुरू किया, उसकी चूत को मुंह में ही घुसा चुका था.लेते हुए बीएफ आराम से… आज रेहान ने बहुत मसला है इनको… उफ़फ्फ़…!रेहान और राहुल बाहर पीने में मस्त थे और दोनों के ही लौड़े तनाव में आनेलगे थे, उनको लैसबो करते देख कर।आरोही- सस्स आ…हह.

प्रेषक : विजयमेरा नाम विजय है। मैं अहमदाबाद में रहता हूँ, मैं एक सादा और सामान्य लड़का हूँ। मैं गोरा तो नहीं हूँ, लेकिन स्मार्ट लड़का हूँ, मेरी हाईट 5’9” फ़ुट है, और मेरा लन्ड 5.

বাঙ্গালী বৌদি চুদা চুদি ভিডিও?

लेते हुए बीएफ उसका पानी थोड़ा नमकीन था, सोचा नहीं चाटूँगा, पर मस्त पानी निकला और मुँह दबा होने की वजह से पूरा मेरे मुँह में उतर गया.

दिव्या की सेक्सी वीडियो?पंजाबी का सेक्सी

लेते हुए बीएफ !जीजाजी काफ़ी थक गए थे और कामिनी की चूचियों के बीच सर रख कर लेट गए। थोड़ी देर बाद कामिनी के ऊपर से उठे और मेरे बगल में लेट गए। उनका लौड़ा सुस्त पड़ा था।मैंने उसे हिला कर कहा- आज इस बेचारे को बड़ी मेहनत करनी पड़ी, ओ.

विदेशी सेक्सी वीडियो चोदा चोदी

तीसरे दिन सलमा की जेठानी ने पूछ लिया- सब ठीक ठाक चल रहा है ना?सलमा गुस्से से बोली- ख़ाक ठीक ठाक ! बस एक ही बात बोलता है ‘मुत कर आओ!’तो जेठानी ने बताया- यह इरफ़ान तोतला बोलता है, वो तुमसे कहता है ‘मुस्कुराओ’अब रात हुई, इरफान फिर बोला- जान मुत कर आओ…अब सलमा को जोर की हँसी आ गई…इरफ़ान बोला- अले जानेमन.फिर उसमें से उसने कुछ बैंड दिए जिनको अपने लिंग पर चढ़ा लेना होता है, जिससे उनका आकार भिन्न हो जाता है.

लेते हुए बीएफ नंगी होकर ही ज़्यादा मज़ा आएगा।दोनों ने कपड़े निकालने शुरू कर दिए।बस दोस्तों आज के लिए इतना काफ़ी है। अब आप जल्दी से मेल करके बताओ कि मज़ा आ रहा है या नहीं.

एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ वीडियो

बुलू पिक्चर वीडियोजब मैं माधुरी को चोदने लगा, तो उसने मेरे हाथ पकड़कर अपने दूधों पर रख दिए और ज़ोर ज़ोर से दबाने के लिए कहने लगी, फिर सर पकड़कर पीछे किया और बोली, ऐ नौसिखिए, मेरा दुद्दू क्या तेरा बाप पीयेगा?माधुरी के दोनों पैर मेरी गांड के पीछे जाकर एकदम ऐसे दबोचे थी, जैसे मेरे लवड़े को बुर के भीतर ठेलने के लिए बनें हों.

सी’ कर के सीत्कार कर उठे।मैंने धीरे से कहा- कुछ देखना हो तो पांच मिनट बाद कमरे में आओ।मेरे लंड के टोपे को पकड़ कर मसलने से देवर जी समझ गए कि मामला फिट है, सो खुश थे।मैं कमरे में आई और मिडी उतार दी, नीचे सिर्फ पैन्टी थी, ब्रा पहनी नहीं थी, सो दोनों कबूतर उछल कर बाहर निकल आए। बड़े प्यारे लग रहे थे, सो मैं भी ऐसे ही लेट गई।अब सिर्फ पैन्टी मेरे शरीर पर थी, बाकी मैं नंगी थी। अब क्या.थोड़ा और बढ़ा तो हाथ किसी गरम तपती हुई चीज से टकराया वो उसके चूत के ऊपर की पेंटी थी जो गीली हो चुकी थी और मेरे हाथों में कोई चिपचिपाती चीज लगी और मैं ऊपर से ही चूत को ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा तभी मुझे उसकी हल्की सिसकारी सुनाई देने लगी.

बिलकुल खुद जैसा।मैंने पूछा- लेकिन आखिर क्यों??दोस्तों इस सवाल का जवाब अगले भाग में मिल सकता है।आपके विचार मुझे और भी सत्यघटनाएं आपके साथ बांटने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।अपने मेल भेजें !.

! यह तो जीवन की कला है।फिर हम दोनों के बीच एडल्ट बातें शुरू हो गईं। बातों ही बातों में मैंने उससे उसकी चूचियों का साइज़ पूछ लिया।अब तक हम दोनों बहुत खुल चुके थे।उसने भी एक मुस्कान दी और बताया- 32.

वो केवल सूखी नदी की तरह था, अब ऐसा लग रहा था जैसे ज़िंदगी में रस ही रस आ गया हो…अब तक किताबों या लोगों से सुने सभी सामाजिक विचार मुझे बेकार लगने लगे थे… इज्जत, सम्मान, मर्यादा सब आपके दिल में ही अच्छे लगते हैं… दिखावट करने से ये आपको जंजीरों में जकड़ लेते हैं… मैं अगर इन सब में पड़ता… तो अब तक सलोनी से लड़ झगड़ कर… हम दोनों की जिंदगी नरक बना लेता…मगर मेरी सोच अलग है…लण्ड किसी की भी चूत में जाए. अब समझा बुद्धू … कहा था न … आराम से चोद, निकल गया न दो मिनट में ही!इस तरह से मुझे मेरी पड़ोसन भाभी ने चोदना सिखाया.

भोजपुरी बफ हिंदी कटरीना- हेलो, तुम हम सीनियर अभिनेत्रियों के कमरे में क्या कर रही हो?सन्नी- मुझे प्यास लग रही थी तो पेप्सी लेने आई थी.

कामसूत्र बीएफ पिक्चर

लेते हुए बीएफ: । तू इधर ही रुक, मैं अभी छत पर कपड़े डाल कर आती हूँ।इतनी देर में मैंने भाभी का ‘फोन’ लिया और रोहन के नम्बर पर मैसेज सेंड कर दिया कि मेरे हस्बैंड आ गए हैं और उसके नम्बर को ब्लैक-लिस्ट में डाल कर उससे आने वाली काल्स को रिजेक्ट पर लगा दिया।अब भाभी के कमरे में आते ही मैंने उनका हाथ पकड़ कर खींच लिया। भाभी मुझसे लिपट गईं।मैंने भाभी से कहा- इतने दिनों तक तड़पाने की क्या जरुरत थी.! तू यहीं रहेगा, इसी कमरे में… ओके…!साहिल- मैं कुछ नहीं करूँगा, मुझे जाने दो। वो दो हैं सचिन अकेला उनको कैसे लाएगा.